logo

खीरी पहुंचे कमिश्नर, अधिकारियों के साथ की बैठक, दिए निर्देश

Blog single photo

कलेक्ट्रेट सभागार में कमिश्नर ने की अधिकारियों संग बैठक

लखीमपुरखीरी- शासन के निर्देश पर जिले के नोडल अधिकारी/ मंडलायुक्त लखनऊ मंडल लखनऊ रंजन कुमार तीन दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम हेतु जनपद खीरी पहुंचे। उनके जनपद आगमन पर डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह एसपी विजय ढुल एवं सीडीओ अरविंद सिंह ने उनका स्वागत किया।

इसके उपरांत उन्होंने कलेक्ट्रेट सभागार में धान खरीद, गन्ना क्रय केंद्र, निराश्रित गोवंश, कोविड-19 वैक्सीनेशन, वरासत अभियान, नहरों में पानी की उपलब्धता,विद्युत आपूर्ति व किसानों से संवाद पर बिंदुवार समीक्षा की एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक में जिले में हुई धान खरीद की अद्यतन स्थिति के संबंध में जानकारी देते हुए डिप्टी आरएमओ लालमणि पांडे ने बताया कि धान खरीद के लिए जिले में कुल 130 क्रय केंद्र बनाए गए। जिनके माध्यम से जिले के 37141 पंजीकृत किसानों से अब तक 238721.75 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई। नोडल अधिकारी ने लक्ष्य के सापेक्ष धान क्रय की अद्यतन स्थिति, मिलर्स को धान की डिलीवरी, केंद्र पर अवशेष धान, डिलीवरी धान पर देय चावल, कृषकों को देय व अवशेष भुगतान के संबंध में बिंदुवार जानकारी हासिल की। उन्होंने डिप्टी आरएमओ से क्रय केंद्रों में घटतोली सहित अन्य प्राप्त होने वाली शिकायतों एवं उसके निस्तारण की अद्यतन स्थिति जानी। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्रोतों से क्रय केंद्रवार प्राप्त होने वाली शिकायतों के संबंध में एडीएम से जानकारी हासिल की। उन्होंने क्रय केंद्रों के प्रभारियों के पास लैपटॉप एवं टेबलेट की उपलब्धता सहित धान विक्रय करने वाले सभी पंजीकृत किसानों का डाटा एवं मोबाइल नंबर मंगा।

गन्ना क्रय केंद्रों की समीक्षा के दौरान डीसीओ बीके पटेल ने बताया कि जिले में 484 गन्ना क्रय केंद्र क्रियाशील है। उन्होंने ने नोडल अधिकारी की गत बैठक में प्राप्त निर्देशों के अनुपालन के संबंध में बिंदुवार जानकारी दी। नोडल अधिकारी ने चीनी मिल वार गन्ना मूल्य भुगतान की अद्यतन स्थिति जानी। निराश्रित गोवंश आश्रय स्थलों की समीक्षा के दौरान मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ टीके तिवारी ने बताया कि ज़िले में  करीब 12000 निराश्रित गोवंश का संरक्षण किया जा रहा है।  जिले में अब तक 39 गो-आश्रय स्थल क्रियाशील है। नोडल अधिकारी ने पूछा कि 31 जनवरी 2021 तक कितने गोवंश को संरक्षित किए जाने की योजना है। जनवरी माह में  दो नए गो-आश्रय स्थल  प्रारंभ किए जाएंगे। डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि 156 न्याय पंचायत स्तर पर गो आश्रय स्थल बनाए जाने की कार्य योजना है। नोडल अधिकारी ने गो आश्रय स्थलों के गोबर एवं उनके सह उत्पाद को मार्केट लिंकेज करने के निर्देश दिए।

नोडल अधिकारी ने जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन तैयारियों के संबंध में कोल्ड चैन संबंधी व्यवस्थाएं, कोविन पोर्टल संबंधी डाटा अपलोडिंग, प्रशिक्षण तथा हेल्थ केयर वर्कर डाटा अपलोड किए जाने के संबंध में जिला स्तर पर किए गए कार्यों की समीक्षा की एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। सीएमओ ने जिले में अब तक वैक्सीनेशन के संबंध में की गई तैयारियों के संबंध में बिंदुवार जानकारी दी। सीएमओ ने बताया कि जिले की सभी सीएचसी जिला पुरुष चिकित्सालय जिला महिला चिकित्सालय कुल 17 स्वास्थ्य केंद्रों पर वैक्सीनेशन प्वाइंट्स के रूप में चिन्हित किया गया है।  इसमें लगाई गई टीमों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इसी के साथ प्रतिदिन कोविन पोर्टल को भी अपडेट किया जा रहा है।

सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल ने बताया प्रत्येक सत्र में छह कर्मियों की तैनाती की जाएगी। जिसमें दो सुरक्षाकर्मी, एक जांचकर्ता, एक वैक्सीनेटर एवं एक मोबिलाइजर शामिल है। टीकाकरण अभियान के प्रथम चरण हेतु स्थलों का चयन  एसओपी के अंतर्गत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रत्येक टीकाकरण सत्र में लॉजिस्टिक, दो वैक्सीन कैरियर (प्रत्येक में चार कंडीशनिंग आइस पैक), लाभार्थियों की संख्या के अनुसार वैक्सीन कैरियर में कोविड वैक्सीन, पर्याप्त संख्या में एडी शिरीज, हब कटर, वैक्सीन वायल ओपनर, हैंड सैनिटाइजर एवं मास्क पार्टीशन स्क्रीन एनाफाईलैक्सिस किट, लाल व पीले बैग एवं कचरे के लिए थैला ब्लू पंचर प्रूफ कंटेनर वस्तुओं की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी।

बैठक में नोडल अधिकारी ने नहरों में पानी की उपलब्धता  विद्युत आपूर्ति, वरासत अभियान, पुलिस को प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की अद्यतन स्थिति सहित कृषकों के साथ संवाद के संबंध में आवश्यक जानकारी हासिल की एवं संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक में डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह, एसपी विजय दुल, सीडीओ अरविंद सिंह, सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

- Shivam Verma 

footer
Top